पाकिस्तानी टीम ने नामीबियाई टीम से दिखाया प्रेम। जानिए ऐसा क्या किया जो नामीबियाई टीम हार के बाद भी चहक उठी।

2 नवंबर को नामिबिया की टीम को पाकिस्तान के हाथों 45 रन की करारी हार का सामना करना पड़ा था।

नामीबिया के खिलाड़ी करारी हार के बाद अपने देश के रूप में बैठे हुए थे कि तभी उनके दरवाजे पर दस्तक होती है।

दस्तक देने वाला कोई और नहीं बल्कि थोड़ी ही देर पहले मैदान पर उनको करारी शिकस्त देने वाली टीम पाकिस्ता के खिलाड़ी थे।

इनमें पाकिस्तानी टीम के मैनेजर मंसूर राणा भी मौजूद थे। पूरी टीम के साथ मनसूर राणा ने नामीबिया को निश्चित तौर पर राहत दी होगी।

नामीबिया के खिलाड़ी के सोच रहे होंगे कि जो टीम थोड़ी देर पहले उनके खिलाफ हमलावर थे वह दोस्ताना व्यवहार अपना रही है।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने इन लम्हों पर अपना एक वीडियो अपने ट्विटर हैंडल से जारी किया है।

इस वीडियो में दिखाया जा रहा है कि पाकिस्तान के खिलाड़ी किस तरह से नामीबिया के खिलाड़ियों से मिल रहे हैं और उनका हौसला अफजाई कर रहे हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नामीबिया के खिलाड़ी डेविड वीजा पाकिस्तान के लिए कोई नए खिलाड़ी नहीं हैं। डेविड वीजा पाकिस्तान सुपर लीग में लाहौर कलंदर की तरफ से खेल चुके हैं।

यही कारण था कि मैच खत्म होने के बाद डेविड वीजा पाकिस्तान के खिलाड़ियों के साथ हंसी ठिठोली कर रहे थे।

जब डेविड वीजा पाकिस्तान क्रिकेट टीम के ड्रेसिंग रूम में आए तो साहिंसा अफरीदी के गले मिले।

ये सब करने का विचार किसके दिमाग में आया

पाकिस्तान क्रिकेट टीम नामीबिया के ड्रेसिंग रूम में गई और खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया, उन्हें मुबारकबाद भी दी। यह विचार किसका था सभी के दिल में घर कर रहा है।

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के मीडिया मैनेजर इब्राहिम बदीस का था। इब्राहिम पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के साथ बहुत लंबे समय से जुड़े हुए हैं और अपनी जिम्मेदारियों को अच्छे से निभा रहे हैं।

इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य पाकिस्तान की और पाकिस्तानी क्रिकेट टीम की छवि दुनिया में सुधारन है इससे ज्यादा कुछ नहीं।

हारिस रऊफ के जन्मदिन पर स्कॉटलैंड की टीम को अपने ड्रेसिंग रूम में बुलाया

जब पाकिस्तान क्रिकेट टीम नामीबिया के ड्रेसिंग रूम पहुंचे वहां उनके खिलाड़ियों से बातचीत करने के बाद उन्होंने पूरी नामीबियाई टीम को पाकिस्तानी खिलाड़ी हारिस रऊफ के जन्मदिन पर अपने ड्रेसिंग रूम में इनवाइट किया।

पाकिस्तानी तेज गेंदबाज हारिस रऊफ के जन्मदिन पर पाकिस्तानी खिलाड़ियों के साथ-साथ स्कॉटलैंड की टीम भी शामिल हुई।

होटल के कर्मचारी भी याद रहे

पाकिस्तान के खिलाड़ियों ने नामीबियाई खिलाड़ियों को तो बुलाया ही था लेकिन इसके साथ-साथ होटल के कर्मचारियों को भी बिल्कुल नहीं भूले।

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम जब दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर गए थे तब भी वहां के होटल स्टाफ को वहां पाकिस्तान के क्रिकेट टीम ने अपनी शर्ट और कुछ और निशानियां भेंट की थीं।

जब वर्ल्ड कप में पाकिस्तान की टीम ने सेमीफाइनल से पहले दुबई में अपना होटल शिफ्ट किया था तब भी उन्होंने होटल स्टाफ को कुछ निशानियां सौंपी।

भारतीय क्रिकेट टीम ने भी स्कॉटलैंड की टीम से की मुलाकात

इससे पहले भारतीय क्रिकेट टीम भी स्कॉटलैंड के ड्रेसिंग रूम में मैच के बाद पहुंची और उनके खिलाड़ियों से बातचीत की।

पाकिस्तान की टीम के बारे में अगर बात करें तो यह पहला मौका नहीं है कि पाकिस्तान के क्रिकेट टीम में किसी अन्य टीम के खेमे में जाकर मुलाकात की है।


इससे पहले पाकिस्तान के दौरे पर गई बांग्लादेश और श्रीलंका की टीमों के खिलाफ मैचों के बाद पाकिस्तान क्रिकेट टीम उनके रूम में गई और शुभकामनाएं दीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *