बचपन में अपने फैमिली डॉक्टर के शोषण का शिकार हो चुकी हैं नीना गुप्ता।

अपने जमाने की प्रसिद्ध अदाकार रहीं नीना गुप्ता को बॉलीवुड में अपने व्यवहार और बोल्ड विचारों के लिए जाना जाता है।

वह चाहे तो कोई निजी मुद्दा हो या फिर सार्वजनिक मुद्दा हो। उस पर बेवाकी से अपनी राय रखती हैं।

नीना गुप्ता ने बॉलीवुड में कई ऐसे किरदार निभाए हैं जो उन्हें एक स्ट्रांग अभिनेत्री दर्शाते हैं। लेकिन इनका बचपन बेहद डरावना रहा है।

नीना गुप्ता ने अपने बचपन के बारे में खुलासा करते हुए बताया है कि उनका बचपन में शोषण हो चुका है।

यह शोषण किसी और ने नहीं बल्कि उनके फैमिली डॉक्टर और एक दर्जी ने किया है। नीना गुप्ता जब इस शोषण का शिकार हुई तब भी खामोश हो गई थीं।

उन्होंने इस बारे में किसी को कुछ नहीं बताया था। यहां तक कि उन्होंने अपनी मां से भी इस बात का जिक्र नहीं किया था।

नीना बताती हैं कि उन्होंने अपनी मां को भी इसीलिए नहीं बताया है कि उन्हें डर था कहीं उनकी मां भी मुझे ही गलत ना समझें।

नीना के दिमाग में यह डर बैठा हुआ था की गलती चाहे किसी की भी हो जिम्मेदार एक लड़की को ही ठहराया जाता है। आइए जानते हैं कि उनके साथ घटित घटना की सच्चाई क्या है ?

डाक्टर ने क्या था शोषण

नीना गुप्ता ने बताया कि वे जब बहुत छोटी थीं और वे उस वक्त स्कूल में पढ़ाई करती थीं। एक बार उनकी आंखों में भी दिक्कत थी। वे अपने भाई के साथ डॉक्टर के पास गईं।

डॉक्टर ने अपने केबिन में मुझे बुलाया और मेरा भाई वेटिंग रूम में मेरा इंतजार कर रहा था। नीना आगे बताती हैं कि डाक्टर ने मेरी आंखों की जांच शुरू की।

आंखों की जांच करते-करते मेरे शरीर के उन अंगों को भी छूने लगा जिनका मेरी आंख की जांच से कहीं से दूर-दूर तक नाता नहीं था।

डॉक्टर की इस तरह की हरकत के बाद से मैं काफी डरा हुआ महसूस करने लगी।

मुझे अपने आप से घृणा होने लगी थी। मैं घर पहुंच कर चुपचाप बैठ कर आंसू बहाने लगी थी।

डाक्टर ने फिर भी हरकत दोहराई

नीना गुप्ता ने आगे बताया कि डॉक्टर की इस हरकत के बाद से मैं डरा हुआ महसूस करने लगी थी। मैं अपने साथ घटी इस घटना को अपनी मां को भी नहीं बता पा रही थी।

मुझे ऐसा महसूस हो रहा था कि गलती मेरी ही थी। शायद मैंने ही किसी तरह डॉक्टर को उकसाया होगा।

इस घटना के बाद भी मुझे मजबूरन कई बार उसी डॉक्टर के पास जाना पड़ा और डॉक्टर ने मेरे साथ फिर वही हरकतें दोहराई थी।

मैं चाहती थी कि किसी और डॉक्टर के पास जाऊं लेकिन मैंने किसी और डॉक्टर के पास इस वजह से जाना उचित नहीं समझा कि मेरी मां मुझसे इस संबंध में सवाल पूछेगीं कि तुमने वह डॉक्टर क्यों बदला ?

टेलर ने भी की छेड़छाड़

नीना गुप्ता आगे बताती हैं कि मैं अभी ठीक से डॉक्टर की हरकत को भूल नहीं पाई थीं कि मैं जिस ट्रेलर के पास जाती थी। उस ट्रेलर ने भी मुझ से छेड़छाड़ की थी।

मेरे शरीर का नाप लेने के बहाने मेरे इधर-उधर हाथ लगाता था। मीना कहती हैं कि मैं सब कुछ जान कर भी कुछ कर पाने में असहाय थी।

मुझे ऐसा लगता था कि यदि मैंने मां को कुछ बताया तो मां मुझसे यह पूछेंगी कि ऐसा क्यों और कैसे हुआ ? तब मुझे पूरी बात बतानी होगी।

आज हम जिस दौर में जी रहे हैं जहां पर बच्चों को गुड टच और बैड टच के बारे में बताया जा रहा है। लेकिन हमारे समय में हमें इस तरह की कोई बात नहीं बताई जाती थी।

बेटी भी दंग रह गई

नीना गुप्ता ने अपनी आत्मकथा सच कहूं तो लिखी है। इस आत्मकथा में उन्होंने अपने जीवन के कई रहस्यों का पर्दाफाश किया है।

नीना गुप्ता ने जब अपनी बायोग्राफी अपनी बेटी को दिखाई तो मसाबा गुप्ता भी हैरान रह गईं।

उन्होंने अपनी मां से पूछा कि क्या वास्तव में आप के साथ ये सब हो चुका है तब मेरा गुप्ता सहमति से सर हिलाती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *