तमिलनाडु में भाजपा प्रत्याशी को मिला एक वोट जबकि परिवार में हैं पांच वोट

तमिलनाडु में हाल ही में ग्रामीण निकाय चुनाव संपन्न हुए हैं। यहां पर भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारी डी कार्तिक को केवल 1 वोट हासिल हुआ है।

मजे की बात तो यह है कि उनके घर के कुल 5 सदस्यों के वोट हैं जबकि उनको मात्र एक ही वोट प्राप्त हुआ है।

उनको एक वोट मिलने की खबर के बाद से सोशल मीडिया पर उनकी खबर चलने लगी। बाद में उन्हें इस मामले पर अपनी सफाई भी पेश करनी पड़ी थी।

यह मामला है तमिलनाडु के कोयंबटूर जिले की पेरियानाइक्कनपालयम का। यहां पर वार्ड सदस्य के पद के लिए चुनाव हो रहे थे और भारतीय जनता पार्टी के डी कार्तिक ने मात्र 1 वोट हासिल किया।

उनके 1 वोट हासिल करने की खबर को लेखिका और कार्यकर्ता मीना कंदसामी ने ट्वीट किया।

उन्होंने लिखा कि स्थानीय निकाय चुनावों में भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार को मात्र एक ही वोट हासिल हुआ है।

मुझे भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार के घरवालों पर गर्व है कि उन्होंने अन्य उम्मीदवार को वोट देने का फैसला किया लेकिन भारतीय जनता पार्टी को वोट नहीं दिया।

दूसरी तरफ कांग्रेस के नेता अशोक कुमार ने कहा कि वार्ड सदस्य पद पर चुनाव लड़ने के लिए भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार के घर में 5 वोट थे। लेकिन उनको मात्र अपना ही वोट हासिल हुआ।

इतना ही नहीं एक अन्य ट्विटर यूजर ने बताया कि कार्तिक ने जब चुनाव प्रचार आरंभ किया था तो

उन्होंने अपने साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गृह मंत्री अमित शाह और अन्य नेताओं के फोटो भी अपने पोस्टर्स पर चिपकाए थे।

लेकिन उन्हें मात्र एक ही वोट प्राप्त हुआ था।

जब इस मामले ने ज्यादा तूल पकड़ा तो बीजेपी यूथ विंग के जिला उपाध्यक्ष डी कार्तिक ने द न्यूज एक्सप्रेस को बताया कि मैंने भाजपा की तरफ से कोई चुनाव नहीं लड़ा था।

मैं निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव मैदान में था। मेरे अलावा मेरे परिवार में 4 वोट हैं।

और उन सभी के वोट वार्ड नंबर 4 में है। जबकि मैंने वार्ड नंबर 9 से चुनाव लड़ा था।

वहां पर ना तो मेरे परिवार का और ना ही मेरा कोई वोट था। उन्होंने सोशल मीडिया पर की जा रही उनकी मजाक को गलत बताया।

उन्होंने कहा ऐसा कहना गलत है कि मैंने भाजपा की तरफ से चुनाव लड़ा था।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि तमिलनाडु में स्थानीय निकाय चुनाव 6 और 9 अक्टूबर को संपन्न हुए थे।

इन चुनावों में करीब 27000 पदों के लिए 79433 उम्मीदवार चुनाव मैदान में थे।

इन्हीं चुनावों में भारतीय जनता पार्टी के डी• कार्तिक ने अपने प्रचार प्रसार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा गृह मंत्री अमित शाह के चेहरों का इस्तेमाल किया था।

लेकिन इसके बाद भी उन्हें मात्र एक वोट से संतोष करना पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *