इजराइल की सबसे सुरक्षित जेलों में से एक जेल से भागे 6 फिलिस्तीनी

इजराइल को दुनिया का सबसे सुरक्षित देशों में से गिना जाता है। यहां की जेल और यहां की सुरक्षा व्यवस्था के दुनिया में उदाहरण दिए जाते हैं।

लेकिन अभी पिछले दिनों इजरायल में एक ऐसी घटना हुई जिससे इजराइल की जेलों की सुरक्षा व्यवस्था पर प्रश्न लगा दिया है।

यहां की कड़ी सुरक्षा वाली Gilboa जेल से 6 फलस्तीनी भाग गए हैं।

हालांकि इजराइल ने  इसके लिए जांच कमेटी गठित कर दी है।इजराइल ने इन फलस्तीनियों की खोज की प्रक्रिया तेज कर दी है।

इजराइल की जेल की घटना के बाद वहां की सरकार ने पूरा रोड ब्लॉक कर दिया है।

इन कैदियों के खोजने के लिए हेलीकॉप्टर का भी इस्तेमाल किया जा रहा है।

इस घटना के बाद इजरायल के प्रधानमंत्री Naftali Bennett ने इस घटना को मानवता के लिए बेहद खतरनाक है।

वही इजरायली Prisons सर्विस के क्षेत्रीय कमांडर Arik Yaacov ने मामले में जानकारी देते हुए बताया कि इस मामले की जांच प्रक्रिया चल रही है।

हम इस बात का पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं कि कैदियों को बाहर से कहीं सहायता मिली या फिर यह उनका खुद का ही प्लान था।

इजराइल की जेल से जो कैदी भागे हैं उनकी उम्र 26 से 49 के बीच बताई गई है। इनमें से चार कैदी उम्रकैद सजायाफ्ता हैं।

भागे हुए कैदियों में से 5 इस्लामिक जिहाद मूवमेंट के कार्यकर्ता हैं।

इंडियन एक्सप्रेस में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार Gilboa  को इजरायल की सबसे सुरक्षित जेलों में से एक माना जाता है।

लेकिन इस घटना के बाद अधिकारियों को यह सोचने पर मजबूर कर दिया है की अपनी सुरक्षा व्यवस्था पर दुबारा से आत्ममंथन करने की आवश्यकता है।

इजराइल में इस तरह की 23 सालों में दूसरी सबसे बड़ी घटना है।

अगर हम इजराइल में बंद फिलिस्तीनियों की अगर हम बात करें तो वहां पर इस वक्त करीब 5000 फिलिस्तीनी बंद हैं।

इनमें से या तो आतंकी गतिविधि में शामिल होने के शक में सजा काट रहे हैं या फिर शामिल होने पर सजा काट रहे हैं।

इजराइल की जेल से फिलिस्तीनियों इस तरह से भाग जाना 403 में इसे गौरव के रूप में देखा जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *