ऊंट को बेचने के 240 दिन बाद अपने पुराने मालिक के पास लौट आया वह ऊंट

जानवर और इंसान दोनों एक दूसरे के लिए जरूरी है। जो जानवर हमारे साथ रहते हैं उनके साथ हमें लगाव हो जाता है।

कहीं ना कहीं जानवरों को भी हमसे लगाव हो जाता है।

हमारे जीवन में हम कई बार अपनी सुविधा के लिए जानवरों को खरीदते हैं तथा अपनी सुविधा अनुसार ही उन्हें बेच देते हैं।

इंसान तो जानवर से अपना लगाव खत्म कर लेता है लेकिन जानवर को इंसान से अपना लगा खत्म करना लगभग नामुमकिन सा हो जाता है।

आज हम आपको एक ऐसा किस्सा सुनाने जा रहे हैं जो एक ऊंट से जुड़ा है

उसका ऊंट उसके दोस्त ने खरीद लिया था

यह घटना चीन की है। वहां के सरकारी अखबार CCTN के मुताबिक चीन के इनर मंगोलिया राज्य में रहने वाले तैमूर ऊंट का कारोबार करते हैं।

इसी दौरान उनके एक दोस्त के घर आए और उन्होंने उनसे एक अच्छे ऊंट की इच्छा जाहिर की।

उन्होंने अपने मित्र को एक ऊंट बेच दिया। उसे लेकर अपने घर चला गया। यह बात अक्टूबर 2019 की है।

वह दोस्त अपने और जानवरों की तरह ही उस ऊंट का लालन-पालन करने लगा।

अखबार में छपी रिपोर्ट के अनुसार उस दोस्त ने ऊंट के बड़े-बड़े बालों को काटा और अपना पेट भरने के लिए उसे पहाड़ों पर घास चरने के लिए छोड़ दिया।

ऊंट एक दिन मौका देख कर वहां से खिसक गया। वह लगातार 8 महीने तक चलता रहा।

पहाड़ियां पार के, नदिया , नाले , सड़कें सब कुछ पार करते हुए हुए 100 किलोमीटर की दूरी तय करके।

तैमूर जो कि उसका पुराना मालिक था उसके पास पहुंच गया।

मालिक की आंखें छलक गईं

ऊंट के पुराने मालिक ने जब अपने ऊंट को आया देखा तो वह देखकर हैरान जाएगा।

क्योंकि कई दिनों तक चलने के कारण और कांटों से पथरीले रास्तों से गुजरने के कारण ऊंट के शरीर पर जख्म हो गए थे।

ऊंट की अपने प्रति प्रेम देखकर पुराना मालिक रोने लगा।

वह ऊंट बेचने के अपने निर्णय पर पछतावा करने लगा।

जब ऊंट मालिक के दोस्त को इस बात की जानकारी हुई तो वह तत्काल वहां आया और अपना ऊंट वापस ले गया।

जब ऊंट वापस मांग लिया

तैमूर ने अपना ऊंट अपने दोस्त को वापस तो कर दिया लेकिन उन्हें इस बात पर भी है पछतावा हुआ।तैमूर और उसकी पत्नी बेहद दुखी हुए।

अंत में दोनों पति-पत्नी ने यह फैसला किया कि वे अपना ऊंट वापस मंगाएंगे।

इसके लिए उन्होंने अपने मित्र से संपर्क किया और उसके सामने अपना प्रस्ताव रखा। तैमूर ने अपने उस ऊंट के बदले में 3 साल की मादा दे दी।

जब वह ऊंट वापस आया तब तैमूर की पत्नी रोने लगी।

उन्होंने ऊंट से वादा किया है कि अभी उसे कभी नहीं भेजें और वह अपने आगे के जीवन में यही रहेगा

जानवरों में होती है स्वामी भक्ती

तैमूर ने भी ऊंट के प्रति अपनी श्रद्धा व्यक्त करते हुए कहा कि वे ताउम्र अपने ऊंट की सेवा करेंगे।

उन्होंने कहा कि इस जैसा स्वामी भक्त ऊंट किस्मत वालों को ही मिलता है।

उन्होंने अपने ऊंट का वीडियो चीन के स्थानीय सोशल मीडिया Sina Weibo पर डाला और वह वीडियो एकदम से वायरल हो गया।

इस वीडियो पर लोग अपने अपने विचार व्यक्त कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *