मजेदार जोक्स : लड़की – क्या कर रहे हो तुम..? लड़का – मैं मच्छर मार रहा हूँ.. लड़की – अच्छा अब तक कितने मच्छर मारे तुमने ?

जोक्स कि इस मजेदार दुनिया में आप सभी का एक बार फिर से स्वागत है दोस्तों हम सभी को अपने जीवन खुश रहना चाहिए क्योंकि खुश रहने से ही हमारी आधी परेशानी स्वतः ही दूर हो जाती है और इसी बात को ध्यान में रखते हुए हम आपके लिए आज एक बार फिर से कुछ मजेदार जोक्स लेकर आए हैं तो आइए बिना देर किये है पढ़ लेते हैं इन मजेदार चुटकुलों को

संता ड्राइवर बन गया….
एक आदमी टैक्सी में बैठा और संता तेजी से गाड़ी चलाने लगा….!
आदमी- भाई स्पीड कम करो,
मेरी 4 और बीवी 13 बच्चे हैं……!
संता- साले तूने अपनी स्पीड देखी क्या……?
बात करता है….!!

टीचर : तुम परिंदो के बारे में सब जानते हो ??
संजू : हाँ
टीचर : अच्छा ये बताओ कौन सा परिंदा उड़ नहीं सकता ??
संजू : मरा हुआ परिंदा
भाग पागल कहीं का !!

बॉयफ्रेंड- अगर मुझे करोड़ों रुपये का घाटा हो जाये
तो तुम फिर भी मुझसे शादी करोगी?
गर्लफ्रेंड- क्या तुम्हें सच में करोड़ों रुपये का घाटा
हो गया है?
प्रेमी- नहीं, बस मैं ऐसे ही पूछ रहा था!
प्रेमिका- थैंक गॉड, तब ठीक है तुमसे ही शादी करूंगी.

पत्नी : जरा किचन से आलू लेते आना।
पति : यहां तो कहीं आलू दिख नहीं रहे हैं।
पत्नी : तुम तो हो ही अंधे, कामचोर हो। एक काम ढंग से नहीं कर सकते,
मुझे पता था कि तुम्हें नहीं मिलेंगे, इसलिए में पहले ही ले आई थी
अब आदमी की कोई गलती हो तो बताओ…

पति (पत्नी से) – ये कैसी फोटो खींची है तुमने, पीछे कुत्ता आ गया..?
मुझे फेसबुक पर डालनी थी..!
पत्नी – (चाय की चुस्की लेते हुए) – हां तो उसमें क्या हो गया..
लिख दो कि मैं आगे वाला हूं..!!!
पति ने पीट लिया माथा..

टीचर – अगर श्याम अपनी भाभी को दस गुलाब देगा,
तो उसके पति घनश्याम को अपनी पत्नी को खुश करने के लिए
कितने गुलाब देने होंगे..?
पप्पू – सर, ये सवाल से ज्यादा गुनाह की दस्तक लग रहा है..!!!

असली खगोलशास्त्री तो परिवार में ही होते हैं…
एक मां- जो बचपन में चांद दिखाती थी।
दूसरे पापा- जो एक ही थप्पड़ में सारा ब्रह्माण्ड दिखा देते थे। और…
तीसरी पत्नी- जो दिन में तारे दिखाती है।
ये नासा वासा तो सब भ्रम है!

बेटा – पापा एक बात बोलूं…
पापा – हां बोल…
बेटा – फेसबुक पर मेरे 10 फेक आईडी हैं।
पापा – हरामखोर मुझे क्यों बता रहा है?
बेटा – आप जिस पूजा शर्मा को 10 दिन से चाय पे बुला रहे हो, वो मैं ही हूं।
फिर क्या, दे थप्पड़… दे थप्पड़…!!!

एक युवक और युवती साइकिल से जा रहे थे
तभी उनकी टक्कर हो गई.
युवक- अरे जरा संभलकर किनारे चलिए मैडम जी
युवती- क्यों, सड़क क्या आपके पिताजी की है?
युवक- जी नहीं, सड़क तो आपके पिताजी की है
पर मुझे दहेज में मिली है

सगाई के बाद लड़की लड़के से कहती है…
लड़की- अब लड़कियों को देखना बंद करो
लड़का- ओह, क्या मतलब है?
लड़की- इधर-उधर देखना बंद करो
लड़का- मैं खाना खाने आया हूं तो इसका मतलब यह नहीं
कि मैं मेनू नहीं देख सकता

पत्नी :- अरे! आप ज़फर भाई की बीवी के जनाजे में नहीं गए?
पति :- मुझे शरम आती है।
पत्नी :- अजीब आदमी हो, इसमें किस बात की शरम।
पति :- अब किस मुंह से जाऊं? पहले भी ज़फर भाई की दो बीवियों के जनाजे में जा चुका हूं।
पर उन्हें एक बार भी अपने यहां बुलाने का मौका नहीं आया।

स्कूल में हिंदी के पीरियड में मास्टर जी ने पूछा..
मास्टरजी- “दुख तो अपना साथी है, सुख तो आता जाता है” अर्थ स्पष्ट करें
पप्पू- बीवी हमेशा घर में होती है,
साली आती जाती रहती है
मास्टरजी ने भारतरत्न के लिए सिफारिश की है,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *