राहुल द्रविड़ संभाल सकते हैं भारतीय क्रिकेट में बड़ी जिम्मेदारी

T20 वर्ल्ड कप के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के वर्तमान कोच रवि शास्त्री और उनके स्टाफ का कार्यकाल खत्म हो रहा है।

इस बार बीसीसीआई उनके साथ आगे करार नहीं करना चाहता है।

इसीलिए भारतीय क्रिकेट टीम के लिए नए कोच की तलाश शुरू हो चुकी है।

इस मुद्दे पर बीसीसीआई के अध्यक्ष और भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने बयान दिया था वह चर्चाओं में है।

क्या बयान दिया था सौरभ गांगुली ने

एक बयान में कहा था कि राहुल द्रविड़ भारतीय क्रिकेट टीम के अगले अस्थाई कोच तब तक हो सकते हैं जब तक के कोई स्थाई कोच ना मिल जाए।

सौरभ गांगुली बताते हैं कि मैं जानता हूं कि वे इस काम में ज्यादा दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं।

मैंने इस संबंध में उनसे कोई बात भी नहीं की है। आगे जो होगा वह देखा जाएगा। सौरव गांगुली ने यह बातें द टेलीग्राफ को दिए इंटरव्यू में कही।

राहुल द्रविड़ मना कर चुके हैं

इसी साल भारतीय क्रिकेट टीम ने जब श्रीलंका का दौरा किया था। तब वे बतौर कोच टीम के साथ श्रीलंका भेजे गए थे।

तभी से इस बात की आशंकाएं व्यक्त की जाने लगी थीं कि उन्हें बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती है।

हो सकता है नवंबर में रवि शास्त्री का भारतीय क्रिकेट टीम से करार खत्म हो जाने के बाद उन्हें भारतीय टीम का कोच नियुक्त कर दिया जाएगा।

लेकिन मीडिया में आई रिपोर्ट के अनुसार राहुल द्रविड़ ने बीसीसीआई से कहा है कि वे भारतीय मुख्य क्रिकेट टीम का कोच नहीं बनना चाहते हैं वे राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में ही जाना चाहते हैं।

NCA में ही काम करने की इच्छा है

राहुल द्रविड़ ने साल 2014 में भारतीय क्रिकेट मैं कोच के तौर पर इंग्लैंड का दौरा किया था।

इसके बाद 2015 से 2019 तक भारतीय ए टीम और अंडर-19 टीम के लिए काम किया।

कुछ समय पहले भी आईसीसी हाल ऑफ फेमर राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के प्रमुख थे और भी यही बने रहना चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *